ROHTAK NEWS

70 din baad chali Gorakhdham Express,subah 22 passenger aaye to shaam ko 83 Passenger hue ravana

70 din baad chali Gorakhdham Express,subah 22 passenger aaye to shaam ko 83 Passenger hue ravana


लॉकडाउन के चलते 70 दिन बाद मंगलवार को रोहतक रेलवे स्टेशन से स्पेशल गोरखधाम एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन हुआ। सुबह गोरखपुर से आने वाली ट्रेन से 22 यात्री रोहतक स्टेशन पर उतरे जबकि शाम को 6:30 बजे 83 यात्री सवार हुए। इस दरमियान स्टेशन पर प्रत्येक यात्री के स्वास्थ्य की जांच हुई और सोशल डिस्टेंसिंग के तहत ट्रेन तक पहुंचाया गया। गोरखपुर-हिसार के बीच चलने वाली गोरखधाम एक्सप्रेस सुबह करीब 7:15 बजे आई, जिसमें से 22 यात्री उतरे। स्टेशन पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों ने प्रत्येक यात्री की जांच की तब उन्हें घर जाने दिया गया। वहीं, शाम को ट्रेन से जाने वाले 83 यात्रियों को पौने चार बजे से स्टेशन पर पहुंचना शुरू हो गया। सभी यात्रियों को मुख्य गेट के अलावा आसपास बैठाया गया। शाम 5:40 बजे मुख्य गेट को खोलकर एक-एक यात्री की डॉक्टरों ने थर्मल स्क्रीनिंग की और वेटिंग रूम में बैठाया। ट्रेन के आने पर यात्रियों को डिस्पले बोर्ड के हिसाब से कोच के नजदीक खड़ा करके सोशल डिस्टेंसिंग में बैठाया गया।

प्रयागराज रेलवे चेकिंग स्टाफ की महिला कर्मी को बैठाया

प्रयागराज के रेलवे चेकिंग स्टाफ में तैनात एक महिला कर्मी ने स्टेशन पर पहुंचकर रेलवे अधिकारियों से ट्रेन से दिल्ली तक जाने का अनुरोध किया। पहले तो अफसरों ने ट्रेन में सवार करने से इनकार कर दिया। जब महिला कर्मी ने दिल्ली से आरक्षण होने का हवाला दिया तो उसे बिना आरक्षण ट्रेन में बैठा दिया गया।

ट्रेन जाने तक प्लेटफार्म पर रही महिला व बच्ची

रेलवे के साफ आदेश है कि प्लेटफार्म पर कोई भी यात्री को छोड़ने के लिए नहीं पहुंचेगा। यदि कोई दिव्यांग है, तो सिर्फ एक व्यक्ति को जाने की इजाजत दी जा सकती है। मगर एक युवती और बच्ची अपनी मां को छोड़ने के लिए न सिर्फ प्लेटफार्म पर पहुंची बल्कि ट्रेन के रवाना होने तक खड़ी भी रही।

एम्पलाई ट्रेन से आए लोगों की भी थर्मल स्क्रीनिंग की

रेलवे ने अपने कर्मियों के लिए स्पेशल एम्पलाई ट्रेन का संचालन किया हुआ है। जिस समय गोरखधाम एक्सप्रेस प्लेटफार्म पर आने वाली थी, तभी एम्पलाई स्पेशल ट्रेन आ गई। इससे काफी संख्या में रेलवे कर्मी उतरे। प्लेटफार्म पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों ने इन कर्मियों की भी थर्मल स्क्रीनिंग की।

दिल्ली से लौटना बताया तो खड़े हुए कान

एम्पलाई स्पेशल ट्रेन से उतरे रेलवे कर्मियों से जब डॉक्टर ने आने के स्थान के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि वह दिल्ली से आ रहे हैं। यह बात सुनकर डॉक्टर ने सभी की थर्मल स्क्रीनिंग करना शुरू कर दिया। इसके साथ ही अपने सहयोगी से कहा कि इसकी पूरी रिपोर्ट प्रशासन को दी जाएगी। एक साथ इतने कर्मियों का ड्यूटी के लिए दिल्ली आना और जाना उचित नहीं है।

If you do not understand my given information,then you can ask me your question in the comment box, I will answer your questions as soon as possible.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *